साबुन से सॉफ्टवेर बेचने तक की कहानी | Indian Businessman Azim Premji Biography In Hindi

साबुन से सॉफ्टवेर बेचने तक की कहानी | Indian Businessman Azim Premji Biography In Hindi

Azim Premji Biography

नमस्कार दोस्तों ! कहते है  की आपका एक Vision पूरी दुनिया बदलने की तागत रखता है , और आज हम जिस शक्श के बारे में जानने जा रहे है उस शक्श ने भी अपने एक Vision के दम पर ये कारनामा कर दिखाया है | जी हां  दोस्तों हम बात कर रहे है अभी भारत के 17वें सबसे रईस व्यक्ति अज़ीम प्रेमजी की , जिन्हे भारत के लोग सबसे बड़ा दानवीर कर्ण भी कहते है और इन्हे भारत का बिल गेट्स भी कहा जाता है | भारत के सबसे रईस व्यक्तियों की सूचि में शामिल होने अज़ीम प्रेमजी जोकि Wipro(Western India Palm Refined Oils Limited) कंपनी के  पूर्व-चेयरमैन रहे है ,  अभी हाल ही उन्होंने Wipro कंपनी के चेयरमैन पद से रिटायर होने की घोषणा की थी , जिसके बाद Wipro कंपनी की कमान उनके बड़े बेटे रिषद प्रेमजी ने संभाली है | अज़ीम प्रेमजी न केवल एक बड़े बिज़नेस टाइकून है बल्कि वह उससे  भी कई अधिक एक सामाजिक समस्या के सुधारक है | अज़ीम प्रेमजी के योगदान को देखकर ही भारत सरकार ने उन्हें साल 2005 में पद्मा भूषण और फिर साल 2011 में भारत के दूसरे सबसे बड़े सम्मान पद्मा भिभूषण से नवाजा है | अज़ीम प्रेमजी आज हर उस भारतीय युवा के लिए किसी Inspiration  से कम नहीं है जोकि आने वाले समय में अपनी ज़िन्दगी को बदलना चाहते है | और आज इसी को ध्यान में रखकर हमने अपने दोस्तों के लिए इस आर्टिकल को लिखा है , जिसमें की आपको अज़ीम प्रेमजी के जीवन की कहानी पता चलेगा, जहा आप उनके बारे में शुरआत से लेकर आज तक का सफर जानोगे, और साथ में ये भी जानोगे की कैसे Wipro जोकि पहले तेल साबुन बेचा करती थी वो साबुन बनाने से लेकर सॉफ्टवेयर कैसे बनने लगी | तो बहुत ही ज्यादा रोचक होने वाला है ये आर्टिकल , इसीलिए अब ज्यादा देरी न करते हुए शुरू करते है Azim Premji Biography को |

Dhirubhai Ambani Biography (Click Here)

शुरआती जीवन और परिवार (Starting Life and Family)

भारत के बिल गेट्स अज़ीम प्रेमजी  जिनका की पूरा नाम अज़ीम हाशिम प्रेमजी है ,  इनका जन्म 24 जुलाई 1945 को बॉम्बे (मुंबई)  के एक गुजराती परिवार में हुआ था | ये एक इस्माइली शिया मुस्लिम परिवार में जन्मे अपने माता-पिता के इकलौते संतान थे | इनके पिताजी का नाम हाशिम प्रेमजी था , जोकि अपने ज़माने के एक नमी-गमी व्यापारी हुआ करते थे , साथ ही इनके पिताजी को बर्मन का “Rice King” भी कहा जाता था और तो और जिस साल अज़ीम प्रेमजी पैदा हुए थे उसी साल इनके पिताजी ने Wipro कंपनी की स्थापना की थी | और जो एक बात , शायद बहुत ही कम लोगो पता हो वो ये है की जब भारत का बटवारा हुआ था तो पाकिस्तान के पहले प्रधानमंत्री मुहम्मद जिन्नाह ने अज़ीम प्रेमजी के पिताजी को पाकिस्तान आने का न्योता दिया था जहा उन्हें ये भी ऑफर किया गया था की अगर वो  पाकिस्तान आ जाए तो उन्हें पाकिस्तान का फाइनेंस मिनिस्टर भी बना दिया जाएगा | जिसे की अज़ीम प्रेमजी के पिताजी हाशिम प्रेमजी ने साफ-तौर पर ख़ारिज कर दिया था और कहा था की हम हिंदुस्तानी है और हिंदुस्तान में ही रहेंगे | खैर ! आगे बात करते है जहा एक तरफ पिताजी एक सफल व्यापारी थे तो वही इनकी माताजी एक डॉक्टर हुआ करती थी , अज़ीम प्रेमजी की माताजी का नाम गुल बानो था | आगे आपको अज़ीम प्रेमजी की पढाई-लिखाई के बारे में पता चलने वाला है  |

अज़ीम प्रेमजी की पढाई-लिखाई (Azim Premji Education)

एक बहुत ही बढ़िया सफल बिजनेसमैन के घर में जन्मे अज़ीम प्रेमजी ने अपनी शुरआती पढाई St. Mary School मुंबई से शुरू की , जहा वह शुरआत से ही पढाई-लिखाई में काफी ज्यादा अच्छे रहे , यहाँ तक की उन्होंने अपने स्कूल में कई सारी प्रतियोग्यतायें भी जीती |  अज़ीम प्रेमजी को पढाई में काफी अच्छा करता देख उनके पिताजी ने अपनी इकलौती संतान को अमेरिका में पढ़ाने का सोचा , और फिर जब अज़ीम प्रेमजी ने अपनी Higher Secondary स्कूल तक की शिक्षा को हासिल कर  लिया तो उनके पिताजी ने अज़ीम प्रेमजी का दाखिला उस वक़्त के सबसे बड़े यूनिवर्सिटी में से एक Stanford University में पढ़ने के लिए भेज दिया | जहा से फिर अज़ीम प्रेमजी अपनी Electrical Engineering की पढाई करने लगे , लेकिन तभी कुछ ऐसा हुआ जिसके कारण उन्हें उनकी पढाई को बीच में ही छोड़ना पड़ा और उन्हें अमेरिका से भारत वापिस आना पड़ा , आगे जानिए की ऐसा क्या हुआ जिसके कारण उन्हें उनकी पढाई को छोड़ना पड़ा ?

अज़ीम प्रेमजी के जीवन संघर्ष का दौर (Azim Premji Struggle Story)

दरअशल ये बात तो आप पहले ही जान चुके है की कैसे अज़ीम प्रेमजी हिंदुस्तान से अमेरिका अपनी पढाई करने के लिए गए , लेकिन उसी वक़्त जब अज़ीम प्रेमजी महज 21 साल के थे तो उनके पिताजी की हार्ट अटैक आने से मृत्यु हो गई , जिसके बाद उन्हें अपने बिज़नेस को सँभालने के लिए वापिस से भारत आना पड़ा | जहा फिर उन्होंने भारत वापिस आकर जल्द ही अपने पिताजी का बिज़नेस संभालना शुरू किया , हालांकि अपना बिज़नेस होने के वावजूद भी लोग उन्हें ताने देने लगे , की ये लड़का कहा भारत में तेल-साबुन का बिज़नेस चला पायेगा , इसे कहा इतना ज्ञान है | इसे तो किसी कंपनी में जाकर एक अच्छी-खासी नौकरी करनी चाहिए |  लेकिन अज़ीम प्रेमजी पर इन सबकी बातो का कोई ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ा और वो अपने बिज़नेस को चलाने भी लगे , जिसके उन्हें काफी संघर्षो का सामना करना पड़ा  जैसे की उन्हें कई महीने तो भारत के मार्किट को समझने में लगे। लेकिन अज़ीम प्रेमजी हमेशा से ही एक जल्दी सिखने वाले व्यक्ति थे जल्द ही उन्होंने अपने व्यापार को समझा और अपने व्यापार को जैसे-तैसे करके और अच्छा करने लगे | आगे जानिए की कैसे अज़ीम प्रेमजी साबुन से सॉफ्टवेयर बेचने लगे |

अज़ीम प्रेमजी के  सफलता की कहानी (Azim Premji Success Story)

सो , काफी कुछ जाना हमने की कैसे अज़ीम प्रेमजी ने अपने हालातो के साथ समझौता नहीं किया और अपने दृढ़ निश्चय के दम पर उन्होंने महज 21 साल उम्र में ही अपने पिताजी का बिज़नेस संभाला , और न केवल संभाला बल्कि उस बिज़नेस को और भी काफी आगे बढ़ाया | शुरआत में तो इनकी कंपनी सिर्फ तेल और साबुन ही बेचा करती थी | लेकिन जैसे जैसे अज़ीम प्रेमजी आगे बढ़ते जा रहे थे तो वैसे वैसे ही इनका बिज़नेस भी काफी बढ़ता जा  रहा था | साल 1970 के बाद से ही अज़ीम प्रेमजी अपने बिज़नेस को पूरी दुनिया में फैलना शुरू किया , जिसे देखकर जो उनकी काबिलियत बार शक करा करते थे वो लोग भी अब अज़ीम प्रेमजी के प्रसंशक बन गए थे | लेकिन अज़ीम प्रेमजी कहा यही रुकने वाले थे , दरअशल वो भारत के उन बहुत ही चुनिंदा शक्श में से एक थे जिन्हे भारत का आना वाला भविष्य नजर आता था | और हां , इसके पीछे की वजह ये भी थी की जब अज़ीम प्रेमजी अमेरिका गए हुए थे तो वहा उन्होंने अमेरिका में कंप्यूटर का चलन आम देखकर काफी हैरानी हुई क्युकी भारत में उस वक़्त कही भी कंप्यूटर का नामो-निशान नहीं थे , जिसके चलते साल 1980 तक आते-आते अज़ीम प्रेमजी भी ये समझ चुके थे की आने वाला भारत टेक्नोलॉजी से भरपूर होने वाला है | इसी को ध्यान में रखकर उन्होंने एक अमेरिकन कंपनी जिसका नाम Sentinel Computer  Corporation था इसी कंपनी के साथ मिलकर अज़ीम प्रेमजी ने भी भारत में MiniComputer बनाने शुरू कर दिए | और फिर यही से Wipro Company जोकि पहले तेल-साबुन बनाया करती थी , वो अब Software बनाने लगी | और फिर यहाँ से अज़ीम प्रेमजी कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा , उनकी कंपनी आज 67 से ज्यादा देशो में अपना व्यापार करती है , साथ हर साल करीबन 35 अरब डॉलर का मुनाफा भी कमाती है | लेकिन अज़ीम प्रेमजी का कहना है की अगर आपको भगवान् पैसे दे रहा है तो आपको इसे सामाजिक भलाई भी करनी चाहिए , वरना आप असली सफल इंसान नहीं हो | और शायद यही वजह भी है की दुनिया के रईस इंसान की सूचि में शामिल हर व्यक्ति अपने धन का काफी सारा हिस्सा सामाजिक कार्यो में धान कर देता है |

अज़ीम प्रेमजी की पर्सनल लाइफ (Azim Premji Personal Life)

अगर हम अज़ीम प्रेमजी की पर्सनल लाइफ को भी जाने तो हमे पता चलेगा की वो जैसे रियल लाइफ में दीखते है यानि शांत , दानवीर और सभी का दिल जीनते वाले ठीक वैसे ही वो अपने रियल लाइफ में पेश आते है , खासतौर पर बात करे तो उन्हें अपनी फॅमिली के साथ मूवी देखना बहुत ही ज्यादा पसंद है | जिस वजह वह हफ़्ते में तो एक बारे अपनी फॅमिली के साथ टाइम जरूर स्पेंड करते है | खैर आगे बाते करे तो अज़ीम प्रेमजी ने साल 1976 में यास्मीन प्रेमजी से शादी की जिनसे  की उन्हें दो संताने  हुई  जिनके नाम रिषद प्रेमजी और तारिक़ प्रेमजी है | दोनों ही अपने पिताजी का बिज़नेस सँभालते है | और तो और  अज़ीम प्रेमजी भारत के  सबसे ज्यादा दान देने वाले व्यक्ति भी है वो अपने कंपनी का 35 प्रतिशत हिस्सा मनाव कल्याण में दान देते है | और आपको ये जानकार हैरानी होने वाली है की साल 2010 में बिल गेट्स और वारेन बुफे एक NGO की शुरुआत की  जिसका नाम Giving Pledge है , इस NGO में अज़ीम प्रेमजी ने 21 अरब डॉलर का दान दे दिया था जिसके लिए उनकी खूब तारीफ भी हुई थी | साथ ही अज़ीम प्रेमजी अपना खुदका एक NGO भी चलाते है जिसका नाम Azim Premji Foundation है  जिसकी चेयरपर्सन उनकी वाइफ यास्मीन  प्रेमजी खुद है , ये NGO भारत की शिक्षा को और मजूद करने पर ध्यान देती है | आज भी अज़ीम प्रेमजी अपना ज्यादतर समय अपने NGO को ही देते है , और उनका कहना भी ये है की अगर आप सफल है तो आप कई लोगो को भी सफल कर सकते है | आगे जानिए बहुत ही कम शब्दों में अज़ीम प्रेमजी के बारे में |

Ratan Tata Biography (Click Here)

तो चलिए जल्दी से जान लेते है Azim Premji  के बारे में (Short  Azim Premji  Biography)

  • Full Name\Real Name- Azim Hashim Premji
  • Nickname- Azim Premji , The Bill Gates of India
  • Profession- Businessman
  • Age – 75
  • Birthplace- Mumbai, India
  • Hometown- Banglore,India
  • Nationality- Indian
  • Zodiac – Leo
  • Weight- 65 Kg
  • Height- 5feet 2 inch
  • Date of Birth- 24 July, 1945
  • School- St. Mary Public School
  • Qualification- Electrical Engineer (Distance)
  • College- Stanford University
  • Religion- Shia – Islam
  • Caste- Shia Muslim
  • Foodie Type- Non-Vegetarian
  • Wife- Yasmeen Premji
  • Marital Status – Married
  • Hobbies- Hiking , Jogging ,Playing Golf
  • Net Worth- 15. 7 Billion Dollar

इसी के साथ आज का ये  आर्टिकल यही पर ख़त्म होता है , अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो जरूर बताये कमेंट करके और साथ ही इसे अपने दोस्तों के  साथ भी शेयर जरूर करे | और हां , अगर कोई कमी रह गई हो तो उसे भी जरूर बताये ताकि आपके एक कमेंट से हम अपने Azim Premji Biography आर्टिकल को और अच्छा कर सके  | तो इसी के साथ आपका बहुत-बहुत शुक्रिया Azim Premji Biography इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए |

Bill Gates Biography (Click Here)

 

Anupjha

hello everyone i'm Anup i start my new career as blogger in 2020 i hope that you'll like my blog post. i want to say that i'll try to my best to get more information about my posts. thanks

Leave a Reply