Dr. H.C. Verma Biography in Hindi 2020

Dr. H.C. Verma Biography in Hindi 2020

Dr. H.C. Verma Biography

अपनी खुद की स्थिति बनाएं, और  अपना  खुद का रास्ता बनाएं , ऐसा कहना है डॉ H.C. Verma का | फिजिक्स की बुक का नाम सुनकर हम सभी के दिमाग में बस एक ही नाम आता है  और वो है  H.C. Verma | अगर आप साइंस स्टूडेंट रहे है या अभी  वर्तमान में है तो आपको ये बुक जरूर किसी ना किसी ने पढ़ने की सलाह दी होंगी | फिर चाहे आप IIT के स्टूडेंट हो या NEET के ये बुक सभी को उनके टीचर द्वारा  मोस्ट Recommand  की जाती है  |

कई स्टूडेंट जो IIT या NEET की तैयारी करते वो तो इस बुक को  IIT और NEET की परिक्षों  में प्रवेश लेने का Door(Gate)  बताते है , अगर उन्होंने    H.C. Verma  बुक को solve नहीं किया है तो उनके लिए इन एग्जाम में पास होना काफी मुश्किल होता है |

पर क्या आपको पता है की उन्होंने ये बुक IIT या NEET के एक्समो के  नहीं लिखी , वह बताते है उन्होंने तो ये बुक सिर्फ फिजिक्स को आसान और आम ज़िन्दगी से जुड़े  Action को फिजिक्स से जोड़ सके और बच्चे उन्हें आसानी से समझ कर अपने जीवन में उपयोग कर कर सके , इसीलिए उन्होंने ये बुक लिखी |

लेकिन ये बुक इतने अच्छे से लिखी गयी की भारत के सबसे कठिन एक्समो में इस बुक का इस्तमाल किया जाने लगा , यहाँ तक UPSC के एक्समो में भी स्टूडेंट इस बुक को पढ़कर अपना फिजिक्स का एग्जाम पास करते है |

हाल ही में उन्हें पद्मा श्री से नवाज़ा गया है | भारत सरकार ने उन्हें ये अवार्ड साल 2020 में दिया | कई लोग बोलते है की ये अवार्ड  उन्हें पहले ही मिल जाना चाहिए था क्युकी उन्होंने भारत के स्टूडेंटों और भारत के लिए काफी कुछ किया , पर कहते है ना की भगवान् के घर देर है , अंधेर नहीं | उन्हें और भी कई सारे अवार्डस मिले है | 

आज कई स्टूडेंट उन्हें भगवान् मानते है , और माने भी क्यों ना गुरु का स्थान हमेशा से ही भगवान् से ऊपर रहा है | वह फिजिक्स को इतनी आसानी से बताते है की फिजिक्स में थोड़ा भी रूचि रखने वाला स्टूडेंट उनके बड़े बड़े कांसेप्ट बड़ी ही आसानी से सिख लेता है |

Sir Ramanujan Biography (Click Here)

Dr.  H.C. Verma का जन्म 3 अप्रैल, 1952 को बिहार के एक छोटे से जिले दरभंगा में हुआ था , जहा कई महा कविओं ने जन्म लिया | उसी भूमि पर जन्मे Dr.  H.C. Verma  |  उनका पूरा नाम हरीश चंद्र वर्मा है | उनके पिता एक प्रसिद्ध गणित के टीचर थे, जिस वजह उनकी शुरआती पढाई उनके पिता जी द्वारा हुई | जहा उन्हें स्कूल का कोई झंझट ही नहीं रहता था , बस जब मन किया तब पढ़ लिया और जो मन किया सो पढ़ लिया |

Sir Issac Newton Biography (Click Here)

उन्हें पहली बार कक्षा 6 में स्कूल जाने का मौका मिला , आज जहा बच्चो के माँ-बाप उन्हें  छोटी उम्र से ही  स्कूल भेजना शुरू कर देते है , वही Dr.  H.C. Verma को ये मौका कक्षा  6  में मिला , पर उन्हें कभी  इस बात का अफ़सोस नहीं हुआ , वह बताते है की ये तो उनके लिए ईश्वर का एक वरदान था की उन्हें खुद की काबिलियत जानने का मौका ,

आपको शायद ये बात हैरान करे की  H.C. Verma ने अपने पुरे जीवन में कभी किसी कोचिंग को ज्वाइन करके पढाई नहीं की यहाँ तक की उन्होंने PH.D. भी अपनी ही बलबूते पर सिर्फ 2 3 सालो में समाप्त कर दी और उसके बाद तो उन्हें कई विदेशो से बुलावे आने लगे , पर भारत की मिट्टी में कुछ है ही ऐसा की ये अपनों को भूलने नहीं देती है |

और तो Dr.   H.C. Verma को  तो   बचपन से ही एक टीचर बनना था ,  जिस वजह उन्होंने IIT-Kanpur से  PH.D.करके फिर से वापिस पटना आ गए , जहा उनका ज्यादातर  जीवन व्यतीत हुआ , वही से स्कूल की पढाई से लेकर अपना ग्रेजुएशन कि पढाई पूरी की  , उसके बाद अपनी फिजिक्स को और ज्यादा अच्छा बनाने के लिए उन्होंने अपना दाखिला IIT – कानपूर में ले लिया | पर अपना  PH.D. पूरा करने बाद उन्होंने और कई बच्चो को पढ़ने का सोचा और वह पटना आ कर , पटना  साइंस कॉलेज में एक प्रोफ़ेसर के पद पर काम करने लगे |

वहा कुछ सालो तक काम करके  वह फिर से IIT-कानपूर आकर एक फिजिक्स प्रोफेसर के पद पर काम किया , साल 2017 में उन्हें  रिटायरमेंट मिल गया , पर एक टीचर कभी रिटायर नहीं होता , और अगर टीचर  H.C. Verma हो तो वो  कैसे रिटायर हो सकते है | वह आज भी कई टीचर और बच्चो को पढ़ाते है | इतने बड़े प्रोफेसर होने के वावजूद वह एक साधारण जीवन जीना पसंद करते है , और बड़े ही साधारण तरीके से फिजिक्स को समझते है | Dr. H.C. Verma Biography in Hindi

 कई लोगो  को उनके बुक  H.C. Verma की कहानी पता होगी की कैसे उन्हें  H.C. Verma लिखना का विचार आया पर अगर नहीं पता तो हम आपको बताते चले कि जब उन्होंने देखा की कई स्टूडेंट जो की b.sc में आकर भी फिजिक्स नहीं समझ पा रहे थे , और उनसे बता रहे थे की सर , हमे फिजिक्स समझ ही नहीं आती क्युकी जो बुक्स मार्किट में मौजूद है  वो सभी काफी मुश्किल से समझ आते है |

इस समस्या को लेकर  H.C. Verma ने खूब सोचा और 1984 से ही  H.C. Verma बुक लिखने में जूट गए , और 1992 में अपनी इस बुक को प्रकाशित भी किया | उनकी ये  बुक प्रकशित होने के बाद से ही  ना केवल बच्चो में बल्कि टीचरो में भी ये बहुत पॉपुलर हो गयी , और आज तक ये बुक करोड़ो लोगो को फिजिक्स में सफल बना चुकी है | ऐसा ही नहीं नाम बनता है , इसे बनाने में तो कई साल लग जाते है |

Albert Einstein Biography (Click Here)

उनसे पूछे गए कुछ सवालो के जवाब जो उन्होंने खुद दिए है – Dr. H.C. Verma Biography in Hindi

स्टूडेंट – सर , मैं एक बायो की स्टूडेंट हु ,सो मुझे मैथ उतने अच्छे से नहीं आती , जिस वजह से मैं फिजिक्स नहीं कर पति हु , तो मैं क्या करू सर-

 H.C. Verma- बेटा , आपको हमेशा ये याद रखना है की फिजिक्स कोई टफ सब्जेक्ट नहीं है , तो आप बस इतना करो की जब भी फिजिक्स में आपका सामना मैथ से हो तो आप मैथ के उस कांसेप्ट को पढ़ लो , जिस से की आपको हेल्प मिलेगी | और है आपने अगर मेरी बुक पढ़ी है तो आपको पता होगा की  हमारी बुक में जितने भी मैथ के कांसेप्ट उपयोग होंगे , वह पहले ही चैप्टर में दिए हुए है ,सो आप पहले उन्हें पढ़ ले और फिर अपनी फिजिक्स की शुरआत करे |

स्टूडेंट – सर , मुझे फिजिक्स समझ में नहीं आती , और तो मुझे फिजिक्स में मार्क्स भी कम मिलते है ?

 H.C. Verma- बेटा , फिजिक्स को समझने का सबसे आसान रास्ता है की आप उसे अपने के दिन की गतिविधि में उसका उपयोग करे , फिजिक्स आपको इंटरेस्टिंग लगने लगेगी और कभी पढ़ो तो समझने के लिए पढ़ो ना की मार्क्स के लिए | वह खुद का एक उदहारण देते है की बचपन में उन्हें कभी अच्छे मार्क्स नहीं आते थे, और अच्छे क्या 100 में से तो 30 भी लाना कभी-कभी मुश्किल हो जाता था | पर उन्हें उनके फॅमिली का पूरा सपोर्ट था , जिस वजह से आज वह फिजिक्स में इतने अच्छे  है |

स्टूडेंट – सर , मुझे नीट पास करना है पर मुझे फिजिक्स समझ नहीं आती , तो कैसे मैं फिजिक्स में पास हु ?

 H.C. Verma- बेटा, आप हमेशा ये याद रखना की नीट पास करना ही जीवन का मकशद नहीं है , है आप अपनी पूरी कोशिश करो बुकस पढ़ो एक से समझ नहीं आता तो दूसरे से समझो और पढ़ो , परन्तु जीवन में और भी चुनौतियां आएँगी , तो उसके लिए खुद को बुलंद करो और आगे बढ़ो |

Dr. H.C. Verma के बारे में सब कुछ देखे – Dr. H.C. Verma Biography in Hindi

  • Full Name – Dr. Harish Chandra Verma
  • Date of Birth- 03 April, 1952
  • Age- 68
  • Birthplace- Darbhanga(Bihar)
  • Profession- Author, Physicist, Youtuber , Educator
  • School- Govt. School of Patna
  • College- Patna Science  College
  • Graduated- PH.D in Physics
  • Father-  Shri Ganesh Prasad Verma
  • Mother- Don’t Know
  • Brother- Dr. Devi Prasad Verma
  • Caste- Kayastha
  • Religion- Hindu
  • Height- 5ft 7inch
  • Weight- 75 Kg
  • Wife- Amrita Verma
  • Daughter- Roli Esha Verma
  • Award- Padma Shri(2020) , Maulana Abul Kalam Azad Siksha Puruskar (2017)

कुछ रोचक बाते  डॉ. H.C.  Verma के बारे में – Dr. H.C. Verma Biography in Hindi

  • H.C.  Verma  पहली बार क्लास 6 में स्कूल गए थे |
  • H.C.  Verma को B.sc करने में 4 साल लग थे क्युकी तब देश में मौहोल ख़राब थे |
  • H.C.  Verma क्लास 8 में ही त्रिकोणमिति चैप्टर ख़त्म कर थे |
  • H.C.  Verma ने मात्र 2 से 3 साल में ही अपनी PH.D को पूरा कर लिया था |
  • H.C.  Verma सालाना 1 करोड़ रुपये अपनी बुक से कमाते यही जो की है “”
  • H.C.  Verma रामनौमी के दिन पैदा हुए थे |
  • H.C.  Verma ने अपनी ph.d  नुक्लेअर फिजिक्स में की थी |
  • H.C.  Verma आज ऑनलाइन कई सारे बच्चो को पढ़ा रहे है |
  • H.C.  Verma B.sc के स्टूडेंट के लिए घर बैठे पढ़े क्लास चला रहे है यहाँ क्लिक करके देखे |

सर के अनुभवों से हमे बहुत कुछ सिखने को मिलता है | आज कई बच्चे अच्छे  मार्क्स लाना चाहते है पर सर कहलते है की आप अपनी काबिलियत को पहचानो  और आगे बढ़ो |

अगर आपको हमारा ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो कृपया हमे एक कमेंट जरूर करे | थैंक्स Dr. H.C. Verma Biography in Hindi

हमारे और भी पोस्ट पढ़े –

Anupjha

hello everyone i'm Anup i start my new career as blogger in 2020 i hope that you'll like my blog post. i want to say that i'll try to my best to get more information about my posts. thanks

Leave a Reply