Narendra Modi Biography In Hindi 2020

Narendra Modi Biography In Hindi 2020

Narendra Modi Biography 

आज हमारा देश दुनिया के टॉप देशो में आता है | जहा हर ओर आज सिर्फ और सिर्फ भारत की ही बात होती है | वही एक समय ऐसा भी था जब कोई भी देश भारत की बात नहीं करता था | कही भी भारत के लोगो की बात नहीं होती थी | लेकिन पिछले कुछ  सालो में भारत ने जो नाम कमाया है , वो नाम शायद ही किसी और देश ने कमाया हो | आज भारत देश की चर्चा कई बड़े बड़े देशो में होती है |

हाल ही में दुनिया में आये सबसे बड़े संकट यानि कोरोना वायरस संकट में जिस देश ने अपने देश के साथ अमेरिका , रूस , इटली, जैसे देशो की मदद की वह देश  भारत ही था | भारत को मिले इस नए पहचान में , जिस शक्श का हाथ सबसे बड़ा है , वो है भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी , जी हां , मोदी | आप माने या ना माने पर ये सच है , कोई सबूत ? जी हां  है ,  आप खुद ये सोच कर देखे की आज से दस साल पहले क्या हमारे देश के बारे में कभी इतनी बात होती थी तो आपको आपका जबाब मिल जायेगा | तो एक चाय वाला कैसे बना प्रधानमत्री ? क्यों छोड़ा था  पत्नी को ? कैसे आये बीजेपी में ? जैसे कई और सवालो के जबाब आज आपको इस पोस्ट में मिल जाएगा और साथ साथ उनके जीवन की कहानी भी आपको जानने को मिलेगी |

तो चलिए जानते है दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र देश के प्रधानमत्री “श्री नरेंद्र मोदी ” जी के बारे में –

शुरुआती जीवन :-

नरेंद्र मोदी का जन्म 17 सितम्बर 1950 को गुजरात के वडनगर में हुआ था | जहा मोदी अपने छह भाई-बहनो में तीसरे नंबर पर जन्मे बच्चे थे | उनके पिता जी का  नाम दामोदरदास मूलचंद मोदी था , जोकि सड़क से जुड़े छोटा-मोटा व्यापार किया करते थे | वही उनकी माताजी का नाम हीराबेन मोदी था , जोकि एक धार्मिक महिला और ग्रहणी थी | मोदी जी बचपन से ही काफी शांत और शर्मीले किस्म के व्यक्ति थे , जिस वजह वह पहले तो लोगो से बात करने से भी डरते थे |

Narendra Modi Biography In Hindi
source:- Modi Ji facebook

पर जैसे जैसे उन्होंने अपनी शिक्षा आंरभ की , उनकी ये दिक्कत भी दूर हो गई | वैसे उनका शुरआती जीवन काफी कष्टपूर्ण था क्युकी उनके घर की आर्थिक स्थिति काफी मुश्किल भरी हुआ करती थी , जिस वजह से वह अपने भइओ के साथ रेलवे स्टेशन पे चाय बेचा करते थे , यहाँ तक की  उनका शर्मीलापन यहाँ काम करने से दूर हो गया था | एक बात जानकार आपको हैरत होगी की मोदी जी जब रेलवे स्टेशन पे चाय  बेचा करते थे , तब उन्होंने 1965 में चल रहे भारत-पाकिस्तान युद्ध के द्वारान वहा से गुजर रहे सैनिको को चाय पिलाई थी |

पढाई-लिखाई में कैसे थे  मोदी जी और क्यों छोड़ा था घर? जानिए :-

आज आप मोदी जी को जैसे लाखो लोगो बीच बोलते देखते हो , और उनकी बातो से सभी को प्रभावित होते देखते हो | ये कला उन्होंने  अपने स्कूल के दिनों में ही सिख ली थी | उन्होंने  अपनी पूरी शिक्षा गुजरात के शहर वडनगर से पूरी की | वडनगर स्कूल में अपनी शिक्षा आंरभ की , जहा उनके टीचर बताते है की मोदी जी एक औसत विद्यार्थी थे | पर उनकी भाषण देने की कला काफी अच्छी थी , वह सभी अन्य विद्यार्थीओ को काफी प्रभावित किया करते थे |

आगे अपनी हाई सेकेंडरी शिक्षा पूरी करने के बाद , उनके घर की हालात अच्छी नहीं थी , जिस वजह से उन्होंने अपना घर छोड़ने का फैसला किया और फिर 1967 में  वह ऋषिकेश आ गए  और उसके बाद हिमायल में जाकर कुछ सालो तक वहा साधु-संतो की तरह रहे | जिस वजह से उनकी शिक्षा वही रूक गयी | पर कुछ साल हिमायल में बिताने के बात वह फिर से वापिस आ गये | 1978 में वापिस आने के बाद वह दिल्ली यूनिवर्सिटी एवं गुजरात यूनिवर्सिटी में अपना नाम दाखिल करवा लेते है | और फिर राजनीती विज्ञान से अपनी ग्रेजुएशन पूरी करते है | 

कैसे आये राजनीति में ? जानिए :-

1970 के द्वारान वह हिमालय में अपने दिन वयतीत कर रहे होते , फिर एक दिन उन्हें देश प्रेम का ज्ञान मिलता है | जिसे सुनने के बाद वह जल्द ही गुजरात लौट आते है , और फिर गुजरात राज्य सड़क परिवहन निगम में एक कर्मचारी के रूप ,वह काम करने लगते है | इसके जल्द बाद ही वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ जाते है | उस संघ से जुड़ने के बाद वह हर उस प्रचार में शामिल होते है , जहा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  के लोग मजूद हो |

जहा वह अपने भाषण से सभी का दिल जीत लेते है |अपने भाषण से सभी का दिल जीत , मोदी जी जल्द ही 1977 में आपातकालीन के प्रमुख सक्रीय भागीदारी निभाते है | जिसे देखने के बाद आरएसएस मुख , उन्हें अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का इन चार्ज बना देते है | अपने काम से सभी का दिल जीतते हुए वह आगे चलकर जल्द ही बीजेपी में भी शामिल हो जाते है |

कब कौन-सी संघ से जुड़े मोदी जी ? जल्दी से जानिए :-

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ , से  वह 1971 में जुड़े |

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, से वह 1977 में जुड़े |

भारतीय जनता पार्टी ,  से वह 1985 में जुड़े |

भाजपा के गुजरात विंग के आयोजन सचिव, से वह 1988 में जुड़े |

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव, से वह 1995 में जुड़े |

कैसे मिले शाह से मोदी ? जानिए :-

Narendra Modi Biography In Hindi
source:- Modi Ji facebook

ये दोनों साल 1982 में मिले | जब  नरेंद्र मोदी भी गुजरात को देख रहे थे , और RSS  के प्रचरक बनकर वहा के लीडरो को मदद कर रहे थे | और वही अमित शाह भी थे, तो गुजरात से ही,तो ये भी इस प्रचारक में एक स्वमसेवक बनकर शामिल हुआ , तभी उनकी मुलाकात मोदी से हुई | और ये दोनों तभी से दोस्त बन गए |  इन्हे बीजेपी का जय-वीरू भी बोला जाता है | यहाँ एक किस्सा हम आपके साथ शेयर करने वाले है , जिसमें की आपको उनकी दोस्ती की नीव का पता चलेगा |

दरअसल ये साल 1990 का किस्सा है , जब ये दोनों मिलकर गुजरात में प्रचार कर रहे होते है | तब एक प्रचार के दौरान इन्हे बहुत भूख लग जाती है | तो ये दोनों एक होटल में जाकर खाना खा रहे  होते है तो ,तभी अमित शाह मोदी की तरफ देख मुस्कुराकर कहते है की , मोदी भाई मैं आपको देश का प्रधानमंत्री बनाऊगा | ये बात सुनकर मोदी हस देते है , क्युकी वह उस वक़्त चीफ मिनिस्टर भी नहीं थे | पर शाह इस बात को आगे चलकर सच कर दिखाते है |

कैसे बने गुजरात के मुख्यमत्री मोदी जी ? जानिए :-

आज गुजरात बीजेपी का गढ़ माना जाता है , जिसकी अहम वजह मोदी जी ही है | लेकिन एक समय ऐसा भी  था जब यह कांग्रेस का गढ़ हुआ करती थी | पर 1991 से 1993 के बीच देश में हुए कई हिंसा की वजह से कांग्रेस को 1995 में  गुजरात का चुनाव हारना पड़ा था , उस समय भी कई राजनेता मोदी को ही गुजरात का मुख्यमत्री बनता देख रहे थे , परन्तु ऐसा नहीं हुआ , बीजेपी के कई बड़े-बड़े लीडरो ने केशुभाई पटेल को गुजरात का मुख्यमंत्री बना दिया |

जिसके बाद कई ड्रामे हुए , इन ड्रामो के बाद फिर जब चुनाव हुआ तो फिर से बीजेपी ने गुजरात में जीत दर्ज की , और फिर से केशुभाई पटेल को गुजरात का मुख्यमंत्री बना दिया | इस द्वारन कई बड़े-बड़े नेता मोदी जी के समर्थन में थे , लेकिन फिर भी कुछ नहीं हुआ | पर उसी समय कुदरत ने ऐसा चमत्कार दिखाया की वह गुजरात के  मुख्यमंत्री बन गए , दरअशल हुआ यु की 2001 में , गुजरात में एक बहुत बड़ा भूकम आया जिसने गुजरात को हिला कर रख दिया था , जिस पर गुजरात के मुख्यमंत्री पर कई कार्य देरी से करने के आरोप लगे ,

जिस देखकर बीजेपी को अगले चुनाव में हार कर डर सताने लगा | तभी बीजेपी के कुछ मुख नेताओ ने मोदी जी को गुजरात का मुख्यमंत्री बनाने का फैसला  किया और तब जाकर मोदी जी गुजरात के मुख्यमंत्री बने | अपने कार्य से वहा उन्होंने सभी का दिल जीता और फिर जब भी गुजरात में  चुनाव हुए तो मोदी जी ही उन सभी चुनाव में जीते |

कैसे हराया था 2014 में अरविन्द केजरीवाल को ? जानिए :-

दरअशल जब बीजेपी ने ये घोषणा की , की वह नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद के लिए मैदान में उतार रही है , तो अमित शाह इस बात से काफी खुश हुए , और जल्द ही इन चुनावों के लिए योजना बनाने लगे , जिसके बाद पुरे भारत में घूम-घूम कर , हर एक दिन वह करीबन 600 किलोमीटर तय करते थे | यहाँ मोदी जी अपने भाषणों से सभी का दिल जीत रहे थे , जिससे वह कई करोड़ो लोगो की नजर में आ गए थे और फिर गुजरात में उनका किया गया 12 साल का काम बोल रहा था |

इस साल से ही जनता राजनीती में दिलचस्पी लेने लगी थी | अपने प्रचार एवं प्रसार से सभी को प्रभवित करते हुए | वह 2014 में गुजरात के वडनगर और उत्तर प्रदेश  के वाराणसी से चुनाव लड़े | गुजरात में अपने प्रतिद्वंद्वी मधुसूदन मिस्त्री को 5,70,128 वोटो से हराया, और वही वाराणसी से उनके प्रतिद्वंद्वी अरविन्द केजरीवाल को 3,71,784 वोटो से हारते हुए जीत दर्ज की | जिसके चालते बीजेपी 2014 का चुनाव जीती | और आगे चलकर 2019 में भी भारी वोटो से बीजेपी जीती  | ये सब संभव करने में नरेंद्र मोदी जी का बहुत बड़ा हाथ था | और वह आज भी अपने कामो से सभी को प्रभावित कर रहे है |

मोदी जी से जुड़े कुछ किस्से – Narendra Modi Biography In Hindi

कैसे मगरमच्छ से बचे मोदी ?

दरअशल ये बात उनके बचपन की है , जब वह छोटे थे | वह गुजरात के शार्मिष्‍ठा झील में अक्‍सर खेलने जाया करते थे , जहा उन्हें ये नहीं पता था की इस झील में कई मगरमच्छ भी रहते है | वह बेफिक्र होकर उस झील के पास खेला करते थे | लेकिन एक दिन जब वह झील के पास खेल रहे थे , तब उन्हें एक मगरमच्छ पकड़ने लगा था , जिस के कारण उन्हें काफी चोट भी आयी थी | पर वह  कैसे करके वहा से बचकर निकल गए थे | ये स्टोरी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी |

क्यों कम उम्र में चाय बेचा करते थे?

घर की हालात ठीक ना होने की वजह से वह अपने भाई एवं अपने पिताजी के साथ चाय बेचा करते थे | अपनी पढाई पूरी होने के बाद वह अपने पिता के साथ चाय बेचा करते थे , जैसे ही पढाई पूरी होती थी वह अपने पिताजी की दूकान पहुंच जाया करते थे | उनकी आर्थिक स्तिथि इस कदर ख़राब थी की उनकी माता जी लोगो के घर जा जा कर बर्तन मज़ा करते थी | शायद यही इस देश  की खूबी भी है की ये चाय बेचने वाले को भी प्रधानमत्री बना देती है |

नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू की गई कुछ महत्वपूर्ण योजनायें –

  • स्वच्छ भारत अभियान
  • प्रधानमंत्री जन धन योजना
  • प्रधानमंत्री उज्जवाला योजना
  • प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना
  • मेक इन इंडिया
  • गरीब कल्याण योजना
  • सुकन्या समृद्धि योजना
  • प्रधानमंत्री आवास योजनाडि
  • जिटल इंडिया प्रोग्राम
  • बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना

कुछ बहुत ही रोचक फैक्ट नरेंद्र मोदी जी के बारे में –

  • मोदी जी बचपन में सन्यासी बनना चाहते थे |
  • मोदी जी ने 1967 में गुजरात बाढ़ प्रीडित लोगो की सहयता की थी |
  • मोदी जी सिर्फ 3 घंटे ही सोते है |
  • मोदी जी आज तक कभी 6 बजे के बाद उठे है |
  • मोदी जी को देश प्रेम का ज्ञान मिलने के बाद से ही वह एक सैनिक बनना चाहते थे |
  • मोदी जी  को बचपन में नरिया कहकर बुलाया जाता था।
  • मोदी जी 7 अक्टूबर, 2001 से 22 मई से 2014 तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे।
  • मोदी जी को नाटक में हिस्सा लेना काफी पसंद था |
  • मोदी जी की शादी मात्र 13   वर्ष की उम्र में हो गयी थी , जशोदाबेन मोदी से , लेकिन अपने शादी के 2 साल बाद ही उन्होंने अपना घर छोड़ दिया था |
  • मोदी जी एक शाकाहारी भोजन खाने वाले व्यक्ति है |
  • मोदी जी कोई भी नया काम करने से पहले अपनी माँ का आशीर्वाद जरूर लेते है |
  • मोदी जी जब गुजरात के मुख्यमत्री बने तो उनकी माँ ने ये कहा की बेटा कभी भी रिश्वत मत लेना |
  • RSS में शामिल सभी लोग दाढ़ी नहीं रखते , परन्तु मोदी जी दाढ़ी रखते है |
  • मोदी जी ने पोस्ट ग्रेजुएट किया हुआ है , उन्होंने राजनीती विज्ञान में M.A  की डिग्री ली हुयी है |
  • मोदी जी की 1 साल की सैलरी 19 लाख रूपये है |
  • मोदी जी हर रोज 18 घंटे काम करते है |
  • मोदी जी पहले ऐसे प्रधानमंत्री है भारत के जोकि आज़ादी के बाद पैदा हुए |

Modi ji ke बारे में सब कुछ – Narendra Modi Biography In Hindi

  • Full Name- Narendra Damodardas Modi
  • Nickname- Nariya, Niru
  • Profession- Politician
  • Weight- 75kg
  • Height- 5ft 7in
  • Date of Birth- 17 September, 1950
  • Birthplace- Vadanagar, Mumbai,  Gujrat
  • Age of Death- 69(Approx)
  • Zodiac- Virgo
  • Nationality- Indian
  • Hometown- Gujarat, Vadnagar
  • School- Vadnagar Government School
  • Qualification- Political Science(M.A.)
  • College- Gujarat Uninversity
  • Religion- Hinduism
  • Caste- OBC(Modh Ghanchi)
  • Blood Group- A+
  • Foodie Type- Vegetarian
  • Hobbies- Read Book , Write Book,
  • Net Worth- 2.5 Crore per Year (Approx)

Awards- Narendra Modi Biography In Hindi

1. Order of Abdulaziz Al Saud

Awarding Country: Saudi Arabia

When awarded: 3 April 2016

2. State Order of Ghazi Amir Amanullah Khan

Awarding Country:  Afghanistan

When awarded: 4 June 2016

3.Grand Collar of the State of Palestine Award

Awarding Country: Palestine

When awarded:  10 February 2018

और कई सारे अवार्ड्स – Narendra Modi Biography In Hindi

आशा करते है आपको हमारा ये पोस्ट आया हो और आया है कृपया एक कमेंट जरूर करे | 

और भी पोस्ट पढ़े- Narendra Modi Biography In Hindi

 

Anupjha

hello everyone i'm Anup i start my new career as blogger in 2020 i hope that you'll like my blog post. i want to say that i'll try to my best to get more information about my posts. thanks

Leave a Reply